Monday, November 23, 2015

Dil Se...

बदलते लोग, 
बदलते रिश्ते और बदलता मौसम, 
 चाहे दिखाई ना दे. . . मगर 'महसूस' जरूर होते हैं !:)

Saturday, November 21, 2015

For Old Friends...

चलो कुछ पुराने दोस्तों के,
दरवाज़े खटखटाते हैं;
देखते हैं उनके पँख थक चुके है,
या अभी भी फड़फड़ाते हैं;
हँसते हैं खिलखिलाकर,
या होंठ बंद कर मुस्कुराते हैं;
वो बता देतें हैं सारी आपबीती,
या सिर्फ सक्सेस स्टोरी सुनाते हैं;
हमारा चेहरा देख वो,
अपनेपन से मुस्कुराते हैं;
या घड़ी की और देखकर,
हमें जाने का वक़्त बताते हैं ।
चलो कुछ पुराने दोस्तों के,
दरवाज़े खटखटाते हैं..

Wednesday, September 16, 2015

👌 शानदार बात

कुंडली में "शनि"
दिमाग में "मनी" और
जीवन में "दुश्मनी"
तीनो हानिकारक होते हे.

बदला लेने में क्या मजा है
मजा तो तब है जब तुम
सामने वाले को बदल डालो..||

इन्सान की चाहत है कि उड़ने को पर मिले,
और परिंदे सोचते हैं कि रहने को घर मिले...

'कर्मो' से ही पहेचान होती है इंसानो की...
महेंगे 'कपडे' तो,
'पुतले' भी पहनते है दुकानों में !!.

SO Funny...But True..!!!!

भाषा का फर्क देखिए ,,,,,,,
अगर पत्नी को हिंदी में कहो कि
तुम हत्यारिन लग रही हो .
तो रात का ख़ाना नहीं मिलेगा
लेकिन अगर आपने उर्दू में कहा कि
कातिल लग रही हो
तो शाम की चाय भी पकोड़ों के साथ मिलेगी..!

Monday, August 31, 2015

Tittle ---Tattle

दुनिया में सबसे 'बहूमूल्य' चीज सिर्फ और सिर्फ अभी का 'समय' है . . .
 क्योंकि इसे एक बार खोकर हम, दोबारा हासिल नहीं कर सकते!:)



'रिश्ते' और 'रास्ते' के बीच एक अज़ीब सा रिश्ता होता है!
कभी 'रिश्तों' से 'रास्ते' मिल जाते हैं
कभी, 'रास्तों' में 'रिश्ते' बन जाते हैं!:)


छोटी सी चींटी आपके पैर को काट सकती है
पर आप उसके पैर को नहीं इसीलिये जीवन में किसी को छोटा न समझें
वह जो कर सकता है,शायद आप न कर पाएं!:)

Sunday, August 23, 2015

Very Funny

When life throws lemons: 
Americans - make lemonade 
Latino- make cocktails 
Indians - get some green chillies and hang it on doors/ cars

Musing---Tittle Tattle

'एक मिनट' में ज़िन्दगी नहीं बदलती. . . परन्तु, 'एक मिनट' सोचकर लिया गया 'फैसला' आपकी पूरी ज़िन्दगी बदल सकता है!:)

Tuesday, July 14, 2015

चार लाइन दोस्तों के नाम-

काश फिर मिलने की वजह मिल जाए
साथ जितना भी बिताया वो पल मिल जाए,
चलो अपनी अपनी आँखें बंद कर लें,
क्या पता ख़्वाबों में गुज़रा हुआ कल मिल जाए..
मौसम को जो महका दे उसे
'इत्र' कहते हैं
जीवन को जो महका दे उसे ही 'मित्र' कहते है l
क्यूँ मुश्किलों में साथ देते हैं दोस्त
क्यूँ गम को बाँट लेते हैं दोस्त
न रिश्ता खून का न रिवाज से बंधा है
फिर भी ज़िन्दगी भर साथ देते हैं दोस्त

very true....

रोज तारीख बदलती. है,
रोज. दिन. बदलते. हैं....
रोज. अपनी. उमर. भी बदलती. है.....
रोज. समय. भी बदलता. है...
हमारे नजरिये. भी. वक्त. के साथ. बदलते. हैं.....
बस एक. ही. चीज. है. जो नहीं. बदलती...
और वो हैं "हम खुद"....

और बस ईसी. वजह से हमें लगता है. कि. अब "जमाना" बदल गया. है........
किसी शायर ने खूब कहा है,,
रहने दे आसमा. ज़मीन कि तलाश. ना कर,,
सबकुछ। यही। है, कही और तलाश ना कर.,
हर आरज़ू पूरी हो, तो जीने का। क्या। मज़ा,,,
जीने के लिए बस। एक खूबसूरत वजह। कि तलाश कर,,,
ना तुम दूर जाना ना हम दूर जायेंगे,,
अपने अपने हिस्से कि। "दोस्ती" निभाएंगे,,,
बहुत अच्छा लगेगा ज़िन्दगी का ये सफ़र,,,
आप वहा से याद करना, हम यहाँ से मुस्कुराएंगे,,,
क्या भरोसा है. जिंदगी का,
इंसान. बुलबुला. है पानी का,
जी रहे है कपडे बदल बदल कर,,
एक दिन एक "कपडे" में ले जायेंगे कंधे बदल बदल कर,,

Tuesday, April 07, 2015

A FEW INTERESTING IRONIES OF INDIA.....

(1)Indian moms want their daughter to control their husband and expect their son to control their wives.

(2)Parents want their children to stand out in a crowd but expect them to do what everybody else is doing.

(3)Everything that is run by government looks very bad except government jobs.

(4)While we criticize Maria Sharapova for not knowing who Sachin Tendulkar is, but we are been caught napping as we desperately Google our Nobel prize winner or Sita Sahu (double special Olympics medalist who now sells Golgappa in Delhi for survival.

(5)National animal - endangered
   National pledge - unintended
   National river - polluted


(6)A huge country of 1635 languages.....united by a foreign language.

(7)Government talks about removing the caste system but you are required to mention your caste on every damn form you fill.

(8)Seeing a policeman makes us nervous rather than feeling safe.

(9)We often say "Atithi Devo Bhavah" but we do not allow visitor parking in our residential societies...
Last and good one...

(10)We are Always in a hurry but never on time..!!!
...

Monday, April 06, 2015

Sunday, April 05, 2015

Thought Provoking

In 1902, a professor asked his student
whether it was God who created everything that exists in the universe?

Student replied: Yes

He again asked:
What about evil?
Has God created evil also?

The student got silent...
Then the student requested that may he ask a question from him?

Professor allowed him to do so.

Student asked:

Does cold exist?

Professor said:

Yes! Don't you feel the cold dear?

Student said:

I'm sorry but you are wrong sir.

Cold is a complete absence of heat...
There is no cold, it is only an absence of heat.

Student asked again:
Does darkness exist?

Professor Said:

Yes!

Student replied:

you are again wrong sir.

There is no such thing like darkness.

It’s actually the absence of light.

Sir! We always study light & heat,

but not cold & darkness.

Similarly, the evil does not exist.

Actually it is the absence of Love, Faith & True belief in God.

The name of the student was...
Vivekananda...!!!

Can't stop myself to share this with all....
Very inspiring message

~ हरिवंश राय बच्चन


दुनिया के अंदर दुनिया है , दुनिया अंदर दुनिया ,
और फिर दुनिया के अंदर दुनिया , फिर दुनिया में दुनिया।

तू कितनी दुनियां के अंदर , भान तुझे इंसाना ?

~ हरिवंश राय बच्चन

From The Heart.........

-जीवन में सबसे दुखद समय वो होता है, जब, जिसने हमें महत्वपूर्ण यादगार क्षण दिए, वो एक याद बन कर रह जाते हैं....................

--------------------------------------------

अपने जीवन का अगला अध्याय आप कभी नहीं पढ़ पाएंगे , अगर आप अपना पिछला अध्याय बार बार पढ़ते रहेंगे ……~ 

-------------------------------------------------

आंसू बहे …… कोई नहीं देखता
दुःख निराशा ग़म हो …… कोई नहीं देखता
दर्द दुविधा हो …… कोई नहीं देखता
एक ग़लती हो … सब देखते हैं !!

--------------------------------------------

Words from my favorite writer's pen....


यहाँ सब कुछ बिकता है ,
दोस्त रहना ज़रा संभल के ....
बेचने वाले हवा भी बेच देते हैं ,
गुब्बारों में डाल के ....
सच बिकता है , झूट बिकता है ,
बिकती है हर कहानी …
तीन लोक में फैला है ,
फिर भी बिकता है बोतल में पानी ....
कभी फूलों की तरह मत जीना ,
जिस दिन खिलोगे , टूट कर बिखर जाओगे .... i
जीना है तो पत्थर की तरह जियो ....
जिस दिन तराशे गए , खुदा बन जाओगे …।
------------------
------By Harivansh Rai Bachhan...

Tuesday, March 10, 2015

From The Heart....

दिल में आने का रास्ता तो होता है 
लेकिन, जाने का नहीं होता . . .
  इसीलिये...
 आदमी दिल से जब भी जाता है 
दिल तोड़कर ही जाता है!:

--------------------------------------------------------------
 छोटे थे, हर बात 
भूल जाया करते थे - 
दुनिया कहती थी कि, 
'याद करना सीखो' बड़े हुए तो 
हर बात याद रहती है, 
दुनिया कहती है कि - 
'भूलना सीखो':)

Tuesday, February 24, 2015

Lovely Words...

हरिवंशराय बच्चन जी की एक खूबसूरत कविता,,

"रब" ने. नवाजा हमें. जिंदगी. देकर;
और. हम. "शौहरत" मांगते रह गये;
जिंदगी गुजार दी शौहरत. के पीछे;
फिर जीने की "मौहलत" मांगते रह गये।
ये कफन , ये. जनाज़े, ये "कब्र" सिर्फ. बातें हैं. मेरे दोस्त,,,
वरना मर तो इंसान तभी जाता है जब याद करने वाला कोई ना. हो...!!
ये समंदर भी. तेरी तरह. खुदगर्ज़ निकला,
ज़िंदा. थे. तो. तैरने. न. दिया. और मर. गए तो डूबने. न. दिया . .
क्या. बात करे इस दुनिया. की
"हर. शख्स. के अपने. अफसाने. हे"
जो सामने. हे. उसे लोग. बुरा कहते. हे,
जिसको. देखा. नहीं उसे सब "खुदा". कहते. है...

Wednesday, January 14, 2015

Tittle Tattle

“Your story may not have such a happy beginning, but that doesn’t make you who you are. It is the rest of your story – who you choose to be.”
- Kung Fu Panda 2

Sunday, January 11, 2015

A beautiful poem....

A Beautiful Poem....
 
By Unknown.........
...............................................
I Wish For You...

Comfort on difficult days,

Smiles when sadness intrudes,

Rainbows to follow the clouds,

Laughter to kiss your lips,

Sunsets to warm your heart,

Gentle hugs when spirits sag,

Friendships to brighten your being,

Beauty for your eyes to see,

Confidence for when you doubt,

Faith so that you can believe,

Courage to know yourself,

Patience to accept the truth,

And love to complete your life.

And if you can't have all that...

Then I wish you enough chocolate

to make it through the tough times...

Tittle-Tattle..

To be happy with a man you must understand him a lot and love him a little. To be happy with a woman you must love her a lot and not try to understand her at all".
----Helen Rowland

Tuesday, January 06, 2015

Sachhe Rishte......!!!!

मकान चाहे कच्चे थे
लेकिन रिश्ते सारे सच्चे थे...
चारपाई पर बैठते थे
पास पास रहते थे...
सोफे और डबल बेड आ गए
दूरियां हमारी बढा गए...
छतों पर अब न सोते हैं
बात बतंगड अब न होते हैं...
आंगन में वृक्ष थे
सांझे सुख दुख थे...
दरवाजा खुला रहता था
राही भी आ बैठता था...
कौवे भी कांवते थे
मेहमान आते जाते थे...
इक साइकिल ही पास था
फिर भी मेल जोल था...
रिश्ते निभाते थे
रूठते मनाते थे...
पैसा चाहे कम था
माथे पे ना गम था...
मकान चाहे कच्चे थे
रिश्ते सारे सच्चे थे...
अब शायद कुछ पा लिया है,
पर लगता है कि बहुत कुछ गंवा दिया...
जीवन की भाग-दौड़ में -
क्यूँ वक़्त के साथ रंगत खो जाती है?
हँसती-खेलती ज़िन्दगी भी,
आम हो जाती है।
एक सवेरा था,
जब हँस कर उठते थे हम...
और
आज कई बार,
बिना मुस्कुराये ही
शाम हो जाती है!!
कितने दूर निकल गए,
रिश्तो को निभाते निभाते...
खुद को खो दिया हमने,
अपनों को पाते पाते...
Beautiful poem by
--हरिवंशराय बच्चन

Isn't This True???

Who says we are not exercise Fanatics???

Fitness routine

We 'Jump' to conclusions...

We 'Throw' our weight around...

We 'Twist' the truth...

We 'Stretch' the lies...

We 'Bend' the rules...

We 'Push' our luck...

We 'Lift' our egos...

We 'Run' from tough situations...

We are absolutely fit...!!!

.......but still, we're FAT because.....we eat our words (very often) !